Welcome to WCD Digital E-Repository "ESanchayika "
www.esanchayika.mp.gov.in


ई-रिपोजिटरी(ई-संचयिका)>> मीडिया अपडेट>> आईसीडीएस न्यूज़ पोर्टल... Back
 | 
सबला योजना बनी आशा की किरण
23-Aug-2016
PHOTO
जिस परिवार का गुजारा पतंग बेचने से चलता हो वहां लड़कियों के आत्मनिर्भर बनने के कितने मौके होंगे ? ऐसे परिवेश में खुद को स्वावलंबी बनाने के लिए कई स्तरों पर सहारे की जरूरत होती है। ऐसे में इंदौर के सम्राट नगर की किशोरी बालिका आफरीन के लिए सबला योजना एक आशा की किरण बनकर आई। आफरीन के पिता आबिद हुसैन बहुत गरीब हैं। वे पतंग बेचकर और मजदूरी कर अपने परिवार का पालन-पोषण करते है। परिवार का गुजारा बड़ी मुश्किल से होता है। परिवार की ऐसी स्थिति के बीच उसे पता चला कि महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से किशोरी बालिकाओं के लिए ब्यूटी पार्लर चलाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। आफरीन ने मन ही मन सोचा कि वह भी क्यों न ब्यूटी पार्लर का कोर्स करके परिवार को आर्थिक रूप से मदद करें। सबला योजना के तहत् आयोजित किए जा रहे ब्यूटी पार्लर का निःशुल्क कोर्स करने हेतु आफरीन ने अपने माता-पिता को कहा। कई बार कहने पर भी माता-पिता इसके लिए राजी नहीं हुए। इसके बाद आंगनवाड़ी कार्यकर्ता ने उसके घर जाकर आफरीन के माता-पिता को समझाया तो उन्होंने कहा कि यदि मेरी बेटी ब्यूटी पार्लर का कोर्स सीखने जाएगी तो कार्यकर्ता उसे घर लेने व छोड़ने आए तभी उसे कोर्स करने के लिए हाँ करेंगे। आँगनवाड़ी कार्यकर्ता इसके लिए सहज ही तैयार हो गई, आखिर एक लड़की के आत्मनिर्भर हो जाने का सवाल था। आँगनवाड़ी कार्यकर्ता के अथक प्रयास से किशोरी बालिका आफरीन ने 40 दिन का कोर्स बहुत उत्सुकता और लगन के साथ पूरा किया तथा परीक्षा भी बहुत अच्छे अंकों से प्राप्त की। उसे प्रमाण पत्र भी दिया गया। आज आफरीन अपने घर पर ही ब्यूटी पार्लर चला रही है, जिससे उसे प्रतिदिन दो सौ से तीन सौ रूपए की आमदनी हो रही है। इससे वह अपना और परिवार का आर्थिक रूप से सहयोग कर रही है और अपने छोटे भाईयों की पढ़ाई में भी मदद कर रही है जो अन्य किशोरी बालिकाओं के लिए एक मिसाल है।

PHOTO2 PHOTO3
 
News Id: 206
 
 
 
 
More related News>>
 
 
 
Hits Counter:  3680785 
आईसीडीएस मध्यप्रदेश (भारत)  द्वारा निर्मित एवं संचालित | सहयोग - एमपीटास्ट / एफएचआई 360